प्रभु को जो सबसे अच्छा उपहार हम दे सकते हैं वो है केवल प्रभु के प्रेम के लिये प्रभु के पास आना। — संत राजिन्दर सिंह जी महाराज